Ganna parchi calendar : गन्ना पर्ची न मिलने की दुविधा हुई खत्म 2023 में निःशुल्क दिया जा रहा अतिरिक्त सट्टा ?

Ganna parchi calendar | Ganna parchi calendar 2023 | Ganna parchi calendar 2023 24 | Ganna parchi calendar 2023-24 | caneup | caneup in | caneup. in | caneup .in | enquiry caneup.in | www caneup in | upcane | upcane.gov.in | upcane enquiry.in | upcane up.in | caneup 2023-24 | upcane 2024 | caneu[p 2024 | 

ganna parchi calender
ganna parchi calender | cane up.in 2023 24 | cane up | cane

उत्तर प्रदेश सरकार और गन्ना विभाग लगातार गन्ना किसानो के लिए अनेक प्रयास कर रहे है ताकि किसान को गन्ने सट्टे , गन्ना पर्ची , गन्ना सुर्वे , गन्ने भुगतान आदि में किसी समस्या का सामना न करना पढ़े गन्ना किसान अपना गन्ना आसानी से और समय के साथ चीनी मिल तक पहुंचा सके । गन्ना विभाग पौधशाला से लेकर ट्रैंच विधि से गन्ने की बुबाई , ड्रिप ( drip ) तरिके से गन्ने का उत्पादन , दूसरी फसलों के साथ गन्ने की बुबाई , गन्ना सट्टे तक किसान की मदद कर रही है ।

गन्ना पर्ची न मिलने की दुविधा हुई ख़तम | Ganna parchi calendar | 

ganna parchi calender : उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना पर्ची की दुविधा बिलकुल ख़तम कर दी अब किसानो को निःशुल्क अतिरिक्त सट्टा मुहैया कराया जा रहा है । गन्ना विभाग ने खरीफ फसल की बुबाई को देखते हुए 1424 लाख कुंतल सट्टे की सुविधा ऑनलाइन प्रदान की और चीनी मीलो को 85% तक चलाया जो अब तक के गन्ना इतिहास में सबसे ज्यादा है । गन्ना विभाग ने अतिरिक्त सट्टे के लिए किसानो से कोई पैसे नहीं लिए किसानो को खरीफ फसल को समस्या देखते हुए ये फैसला लेना पढ़ा गन्ना विभाग को जिससे लगभग 15 लाख से ज्यादा किसानो को सीधा फायदा हुआ ।

इस साल गन्ना विभाग ने 72 कुंतल का सट्टा कर दी जो पिछले साल में 60 कुंतल था उत्तर प्रदेश के गन्ने किसानो द्वारा रिकार्ड्स उपज के बदौलत गन्ना सट्टा बढ़ाया गया अब सभी किसानो को आसानी से ज्यादा से ज्यादा गन्ना पर्ची मुहैया हो रही है । इस साल पेराई सत्र की प्रति हेक्टयेर औसत गन्ना आपूर्ति 85 % सीमा तक कर दिया गया | Ganna parchi calendar  अब गन्ना किसानो को पर्चियों को लेकर कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पढ़ेगा । 

पौधा गन्ना की पर्चियां फरवरी के पहले सप्ताह में मुहैया कराई जएंगी | Ganna parchi calendar |

पौधा गन्ना की पर्चियां फरवरी के पहले सप्ताह में किसानो को मिल जएंगी 7 वे पक्ष में पौधे की पर्ची गन्ना विभाग ने लगा रखी जो फरवरी के पहले सप्ताह में आने चालू हो जएंगी क्योंकि जनवरी तक तो किसानो को पेड़ी की पर्ची मुहैया कराई जाती है इसके पीछे का सबसे पहला कारण गन्ने में चीनी का काम होना क्योंकि पौधे गन्ने को फरवरी के बाद बोया जाता है जो मार्च , अप्रैल में जाकर जम का आता है और पढ़ी तो पहले से जमी हुई होती है । 

पौधे के गन्ने में चीनी रिकवरी काम होती है जिस वजह से चीनी काम मात्रा में निकलती है जिससे चीनी मिल को गन्ना विभाग को नुकसान उठाना पढ़ता है । गन्ना विभाग ने पेड़ी की पर्ची को पहले पक्ष से 6 वे पक्ष तक रखा और पौधे को 7 वे पक्ष से 12 वे पक्ष तक रखा । पौधा चीनी मिल फरवरी के पहले सप्ताह से पेराई करना चालू करता है और पेड़ी को जिस दिन से मिल चलता है उस दिन से चीनी मिल पेड़ी का गन्ना पेलता है । Ganna parchi calendar

गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे | Ganna parchi calendar |

गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने के लिए caneup वेबसाइट , e-Ganna app या फिर SMS के माध्यम से गन्ना पर्ची देख सकते है गन्ना पर्ची निम्नलिखित तरीके से देख सकते है । Ganna parchi calendar 

  • गन्ना पर्ची देखने के लिए सबसे पहले https://enquiry.caneup.in/ वेबसाइट पर क्लिक करे उसके बाद गन्ना पर्ची कैलेंडर यहां देखे पर क्लिक करे ।
  • गन्ना विभाग का ऑफिसियल पेज खुल जायेगा फिर 6 अंको को कॅप्टचा कोड डाले उसके बाद अपने जिले , गन्ना मिल , गांव का नाम , किसान के नाम का चयन करे । 
  • किसान का पेज खुल जयेगा वहां सबसे पहले अपने नाम के साथ अपने पिताजी और गांव का नाम देख ले इस पेज के ऊपर हम गन्ना पर्ची , गन्ना सुर्वे , गन्ना कच्चा कैलेंडर , गन्ना भुगतान , जारी की गयी पर्ची की जानकारी , मिल में डाली गए पर्ची की जानकारी , गन्ना भुगतान की जानकारी , sms से जुड़ी जानकारी , और गन्ने से सभी जानकारी आसानी से देख सकते है । 
  • मोबाइल ऐप पर पर्ची देखने के लिए गूगल प्ले स्टोर से E-ganna App डाउनलोड करे उसके बाद किसान रजिस्टर फार्मर ( Register Farmer ) पर क्लिक करे और अपने उस जिले का चयन करे जिस जिले में गन्ना मिल मौजूद है । 
  • जिला चुनने के बाद अपनी मिल का चयन करे और गांव का नाम देखने के लिए ( search by name ) पर क्लिक करे और अपने गांव और किसान के नाम का चयन करे । फिर ( confirm ) पर क्लिक करे ।
  • एक बार रजिस्टर करने के बाद E-ganna App में किसान का नाम फिट हो जाता है फिर दोवारा जिला , मिल और गांव का नाम डालना नहीं पढता । E-ganna App में किसान कच्चा कैलेंडर और मैन कैलेंडर ( main calander ) आसानी से देख सकते है । ये गूगल से भी ज्यादा आसान है ।  Ganna parchi calendar

इस साल उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानो के लिए जिनके पास इनटरनेट नहीं होता था उनको देखते हुआ गन्ना पर्ची को sms के जरिया किसान के रजिस्टर मोबाइल नंबर पर पहुंचाया जा रहा है अब किसान बिना इंटरनेट के गन्ना पर्ची की जानकारी आसानी से देख सकते है । 

गन्ना विभाग द्वारा sms पर जारी की गयी पर्ची चीनी मिल में मान्य है । sms के द्वारा किसान का कोड , किसान का नाम , पर्ची कॉलम , पक्ष , जारी होने की तिथि , गन्ना लेन की तिथि और पर्ची नंबर भेज दिया जाता है जिसको दिखा कर किसान आसानी से अपना गन्ना चीनी मिल तुलवा देता है 

 गन्ने की खेती या गन्ना पर्ची से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए निचे कमेंट में लिखे या फिर अपनीओ नजदीकी गन्ना सोसाइटी या गन्ना सुपरवाइजर से अपनी समस्या का समाधान पाए । गन्ने की जानकारी के लिए गन्ना मिल के अधिकारियो से भी जानकारी ले सकते हो 

cane up | cane up 2023 | cane up 2024 | up cane | up cane.in | up cane ganna | Ganna parchi calendar | enquiry upcane | cane up enquiry | up cane enquiry | cane up 2023 24 | up cane 2023 24 | up ganna parchi | ganna parchi kaise dekhe |

Sharing Is Caring:

2 thoughts on “Ganna parchi calendar : गन्ना पर्ची न मिलने की दुविधा हुई खत्म 2023 में निःशुल्क दिया जा रहा अतिरिक्त सट्टा ?”

Leave a Comment

close button