cane up.in ghoshna patra : घोषणा पत्र क्या होता है ऑनलाइन कैसे भरे जानिए 2023 की पूरी जानकारी ?

cane up.in ghoshna patra : यूपी गन्ना विभाग ने सभी किसानो के लिए घोषणा पत्र अनिवार्य कर दिया ताकि सभी किसानो की जानकारी गन्ना विभाग के पास रहे घोषणा पत्र भरने के कई फायदे है जैसे की पहले गन्ना किसान को अपनी खसरा खतौनी हर साल गन्ना सोसाइटी में जमा करनी होती है अब किसान घर बैठे ऑनलाइन अपना घोषणा पत्र भर सकते है और अब खसरा खतौनी की भी जरूरत नहीं है . जब हम अपना गन्ना पर्ची देखते है तो सबसे उप्पर लिखा हुआ आता है अगर घोषणा पत्र नहीं भरा तो जल्दी भर दे अन्यथा आपका सत्ता बंद कर दिया जायेगा  .

cane up.in ghoshna patra

घोषणा पत्र कैसे भरे : cane up.in ghoshna patra ?

  • पहले घोषणा पत्र गन्ना सुपरवाइजर के द्वारा भरा जाता था और हर साल गन्ना किसान को अपनी खसरा खतौनी देनी पढ़ती थी लेकिन अब सरकार ने किसानो के लिए घोषणा पत्र ऑनलाइन कर दिया अब सभी किसान अपना घोषणा पत्र ऑनलाइन आसानी से घर बैठे cane up.in ghoshna patra भर सकते है । घोषणा पत्र भरने के निम्नलिखित तरीके ।
  • ऑनलाइन घोषणा पत्र भरने के https://enquiry.caneup.in/ वेबसाइट पर जाये या फिर upcane.co.in पर क्लिक करे ताकि captcha कोड नहीं डालना पढ़े  और सीधा गन्ना विभाग का ऑफिसियल पेज खुल जायेगा .
  • गन्ना विभाग का ऑफिसियल पेज पर सबसे अपने जिले का नाम चुना ( meerut ) उसके बाद गन्ना फैक्ट्री का नाम चुने ( Daurula ) फिर अपने गांव  का नाम चुने फिर गन्ना किसान का नाम चुने
  • किसान को अपना नाम चुनते ही गन्ना किसान की सारी जानकारी खुल जाएगी  किसान सबसे पहले अपने नाम के साथ साथ अपने पिताजी का नाम भी देख ले ताकि सभी जानकारी सही से भर सके .
  • ऑनलाइन घोषणा पत्र भरने के लिए सबसे पहले सीधे हाथ की साइड सबसे उप्पर Revenue Data पर क्लिक करते ही घोषणा पत्र का ऑनलाइन फॉर्म आ जायेगा ।
  • घोषणा पत्र  में सबसे फैक्ट्री और सोसाइटी का नाम देख ले फिर किसान का नाम और और गांव का कोड देखे ।
  • फिर हमे बैंक खाते के आखरी 4 अंक या आधार कार्ड के आखरी 4 अंक भरने होते है फिर अपना मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद सत्यापित पर क्लिक करे .
  • भूमि विबरण में प्लाट का गांव चयन करे जिस गांव में गन्ने का प्लाट मौजूद है फिर खतौनी खाता संख्या डाले  , उसके बाद गाटा नंबर , गाटा का एरिया , शेयर परसेंटेज , एरिया , का चयन करे ।
  • अपने पौधा गन्ना की किसम का चयन करे ताकि गन्ना विभाग के पास सभी जानकारी मौजूद रहे फिर पौधे  का एरिया डाले , पेड़ी गन्ना किसम का चयन करे और पेड़ी अत्री डाले ।
  • शरदकालीन गन्ना किसम और शरदकालीन गन्ना एरिया डाले उसके बाद ADD पर क्लिक करके तुम्हारे द्वारा दी गयी जानकारी को सबमिट करे ।
  • सबसे निचे अपने प्लाट का नाम , गाटा नंबर , खतौनी खाता संख्या , एरिया , शेयर % ,  पौधा , पेढ़ी सारी जानकारी लिखी हुई होती है जो गन्ना विभाग के पास मौजूद है ।
  • सबमिट करने के बाद तुम्हारे द्वारा दी गयी सारी जानकारी गन्ना विभाग के पास फिट  हो जयेगी जिससे गन्ना पर्ची आने में कोई दिक्कत नहीं होगी और न ही किसान का सत्ता बंद किया जायेगा । cane up.in ghoshna patra

ऑनलाइन घोषणा पत्र कैसे भरने के फायदे  : cane up.in ghoshna patra ?

ऑनलाइन घोषणा पत्र भरने से किसान को हर साल अपनी खस्रा खतौनी और जरुरी डाक्यूमेंट्स गन्ना सोसाइटी  या फिर गन्ना सुपरवाइजर को जमा नहीं करने पढ़े , किसान अब आसानी से घर बैठे ऑनलाइन अपना cane up.in ghoshna patra घोषणा पत्र भर लेता है और एक बार घोषणा पत्र भरने के बाद गन्ना विभाग के पास हमेशा के लिए डाटा सेव हो जाता है हर साल किसान को अपनी जानकारी गन्ना विभाग को देनी नहीं पढ़ती ।

2020 से पहले सभी गन्ना किसान अपना घोषणा पत्र गन्ना सुपरवाइजर या गन्ना सोसाइटी के द्वारा भरवाते थे जिससे गन्ना किसान का आसानी से गन्ना घोषणा पत्र नहीं भरा जाता था , क्योंकि किसान को अपनी जानकारी ऑनलाइन cane up.in ghoshna patra की जगह पेपर में देनी होती थी जिससे गन्ना कर्मचारियों द्वारा किसान के पेपर खो दिए जाते और किसान की पूरी जानकारी गन्ना विभाग के पास नहीं पहुंचती थी और गन्ना किसान को पर्ची में दिक्कत का सामना करना पढता था ।

घोषणा पत्र नहीं भरने के नुकसान .

घोषणा पत्र किसानो के गन्ने से जुडी जानकारी के लिए भरा जाता है जैसे की किसान की प्लाट , गन्ना किसम , वैरायटी और गन्ने से जुड़ी सभी जानकारी गन्ना विभाग के पास रहती है  अगर किसान cane up.in ghoshna patra घोषणा पत्र नहीं भरता तो किसान का सट्टा बंद कर दिया जायेगा क्योंकि गन्ना विभाग के पास किसान की कोई भी जानकारी मोजूद नहीं होगी तो गन्ना विभाग को किसान का सट्टा बंद करना पढता है । घोषणा पत्र भरने से फर्जी सट्टे बंद हो गए क्योंकि पहले किसानो ने फर्जी सट्टे बनवा रखे थी और किसान के नाम पर ज्यादा से ज्यादा फर्जी जमीन  लगी हुई होती थी

अब किसान के पास जितना गन्ना मौजूद होता है उतनी ही किसान को पर्चियां मुहैया कराई जाती है ।यूपी गन्ना किसान अगर अपना घोषणा पत्र नहीं भरते तो किसान का सट्टा बंद कर दिया जायेगा फिर किसान अपना गन्ना सरकार को नहीं बेच पायेगा घोषणा पत्र गन्ना विभाग ने किसानो की सभी जानकारी इकठ्ठा करने के लिए लागु किया गया है किसान अपनी साडी जानकारी जैसे की अपनी जमीन की फर्द , खसरा , खतौनी , आधार नंबर , प्लाट नंबर , बैंक खाता आदि की सभी जानकारी घोषणा पत्र के द्वारा किसान गन्ना विभाग को ऑनलाइन भेज देते जिससे किसान की साडी जानकारी गन्ना विभाग के पास सेव हो जाती है ,

घोषणा पत्र आने के बाद किसानो को अब हर साल अपने डाक्यूमेंट्स गन्ना सुपर विसोर को भेजने की जरुरत नहीं पढ़ती बल्कि एक बार में ही किसान का डाटा cane up.in ghoshna patra में सेव हो जाता है 

cane up.in ghoshna patra | caneup | caneup.in | upcane | upcane 2023 24 |caneup 2023 24 | caneup 2023 | caneup 24 | www caneup | up cane | uttar pradesh ganna | up caneup | enquiry caneup | cane up.in ghoshna patra 2023 24 | caneup enquiry | bhl | bcml | sugar mill | up cane payment | up cane registration |

Sharing Is Caring:

Leave a Comment

close button